कीबोर्ड क्या है (what is Keyboard) और कितने प्रकार के होते है. जानिए हिंदी में.

आपको पता है कीबोर्ड क्या है. कीबोर्ड एक input device है. इसका इस्तेमाल computer में commands, text, numerical data और बहुत सारे data को enter करने के लिये किया जाता है. आपने इसका इस्तेमाल computer या फिर laptop पर typing करते समय जरुर किया होगा.

आज भी बहुत सारे लोग ऐसे भी है जिनको कीबोर्ड के विषय में पूरी जानकारी नहीं है. इसलिए ये जानकारी आपके लिये बहुत महत्वपूर्ण हो सकती है. Computer के साथ बातचीत करने के लिये input device जैसे की keyboard और mouse का इस्तेमाल करते है.

यदि हम पहले समय की बात करें तो तब keyboard को computer के साथ connect करने के लिए PS/2 या serial connector का इस्तेमाल किया जाता था. लेकिन में अभी की बात करूँ तो USB और wireless connector का इस्तेमाल किया जाता है.

 इनको connect करना अब बहुत आसान हो गया है. Wireless keyboard का जो disadvantage है जो को हमें बार बार battery बदलना पड़ता है, वरना ये ज्यादा portable है दूसरे कीबोर्ड की तुलना में.

keyboard

कीबोर्ड के प्रकार (types of keyboard) –

बहुत से अलग अलग प्रकार के keyboard layouts उपलब्ध है जिनको region और language के हिसाब से manufacture किया जाता है. आज हम उसी types के विषय में जानने वाले है.

OWERTY

 इस layout को दुनियाभर में सबसे ज्यादा इस्तेमाल में लाया जाता है और इसे पहले की 6Letters के अनुसार ही नामांकित किया गया है जो की पहले की Top Row में देख सकते है. इसे सभी देशों में इस्तेमाल में लाया जाता है.

इसे इतना ज्यादा इस्तेमाल में लाया जाता है की बहुत से लोग ये सोचते है की यही एक प्रकार का कीबोर्ड उपलब्ध है. कुछ लोगों को पता ही नहीं की इसके अलावा भी बहुत सारे उपलब्धि है.

AZERTY

इसे France में develop किया गया है, एक दूसरे variation के हिसाब से QWERTY layout का और इसे standard French keyboard भी माना जाता है.

DVORAK

इस layout को Finger Movement को काम करने के लिए बनाया गया है, जिससे OWERTY  और AZERTY keyboard की तुलना में इसमें ज्यादा जल्दी और fast type किया जा सकता है अगर में अभी की बात करूँ तब वर्तमान समय में जिन keyboard का use किया जाता है, वे सारे अधिकतर OWERTY ही होते है.

       1)   Basic keyboard –

शायद आप सभी को पता होगा. Basic keyboard हमने school में बहुत बार देखे होंगे लेकिन तब हमें पता नहीं था की keyboard में भी प्रकार होते है. Basic keyboard का आमतोर पर store, school, और basic game shop पर इसका बहुत ज्यादा इस्तेमाल किया जाता है. 

इन में कुछ खास बटन नहीं होते है आमतोर पर कुछ नए इंसान इसे बड़ी जल्दी सिखा सकते है, बहुत आसन होता है. इसकी price 300 से लेकर 500 तक होती है.

       2)      Multimedia keyboard –

सबसे बड़ी बात ये है की ये दिखानेमें बहुत अच्छा होता है और कुछ बड़ा भी, इसकी price 500 से लेकर 1500 तक होती है. ये look और design में बहुत बेहतर होते है बाकियों से, इसपर texture की मदत से बहुत बढ़िया design होती है और साथ ही साथ ये काफी स्लिम भी होते है. इसके switches काफी smooth होते है.

आप जभी types करते हो तब आपको बहुत सारी आवाज आती है, वो आवाज इस keyboard में नहीं आती, Multimedia में आपको बटन के ऊपर lamination किया हुवा होता है, उससे आपके button के text मिटते नहीं.

      3)      Wireless keyboard – 

      जब आप Wireless keyboard ख़रीदने जाते हो तब आपको कीबोर्ड के साथ एक mouse और रिसीवर भी मिटा है आपको रिसीवर आपके pc के पीचे लगाना होता है ताकि आपका keyboard चल सके और उसके साथ आपको 2 या 3 सेल भी मिलते है. 

उसको keyboard के पीचे लगाना होता है ताकि उसको पॉवर मिल सके. आप बहुत दूर से भी typing कर सकते है, बस आपको सेल ख़तम होने पर हर बार बदलना होगा.

कीबोर्ड के बटन की जानकारी –

एक कंप्यूटर के keyboard में बहुत सारे letters, number, symbols और commands button के shape में स्तिथ रहते है, और इनमें से किसी न किसी specific category को belong करते है, इसलिये यदि आपको पता लग जाये की कोनसी key किस category की है तब आप आसानी से उनके function के बारे में जान सकते है कुछ keyboard में special key उपलब्ध होती है वही कुछ में नहीं होती, लेकिन सभी keyboard में समान Alphanumeric key ज़रूर होती है.

 

       1)      Alphanumeric key –

सभी keyboard में एक set of key उपलब्धि होती है जिसे Alphanumeric key कहा जाता है. इस में Alphanumeric का मतलब होता है की Either letters या फिर number, लेकिन symbols या command key नहीं होती है. ये number key keyboard के अलग अलग हिस्सों में उपलब्धि रहती है, एक की letters के ऊपर होता है और दूसरी key letters के दायी और number key letters के ऊपर दिखाई पड़ती है वो symbol key की double होती है.

 

अगर आप Shift button को press करें और number को hold करें तब उस number key में जोभी symbol होगा वो type हो जायेगा, keyboard के top row पर letters जैसे की O,W,E,R,T, और Y होते है, इसलिये Cellphone में स्तिथ keypads को qwerty keypads कहते है.

 

       2)      Punctuation key –

Punctuation key उनको कहा जाता है जो की Punctuation marks के साथ relate करते है, उदहारण के लिए Comma key, Question mark key, colon key और period key ये सारे keys, letters keys के right side में स्तिथ होते है, number keys के जैसे ही, अगर आप Punctuation key को hold कर shift को दबाएँ तब दूसरे function को इस्तेमाल कर सकते है.

 

       3)      Navigation keys –

Keyboard में Navigation keys letter key और number key के बिच दिखाई पड़ती है वो भी keyboard के दायीं तरफ. Navigation keys में मुख्य रूप से चार arrows होते है. Up, down, right और left ये keys curser को display screen में mouse के मदत से move करते है, इसके साथ आप इन Navigation keys का इस्तेमाल website history को scroll यानी ऊपर नीचे करने के लिए कर सकते है.

 

  4)  Command keys और special keys –

Command keys उन keys को कहा जाता है जो की Command देते है जैसे की on delete, return, और enter ये आपके keyboard के ऊपर निर्भर करता है की उसमें special keys उपलब्ध है या नहीं. उदाहरण के लिए volume को ऊपर नीचे करने के लिए या फिर video को आगे पीछे करने के लिए इत्यादि. दूसरे सारे special keys “Caps lock key”, “shift key” और “tab key” ये है.

 

Keys के प्रकार –

यहाँ पर में आप लोगों को keyboard में स्तिथ अलग अलग प्रकार की keys के बारे में जानकारी दूंगा और उनके इस्तेमाल के विषय में भी बताऊंगा. एक सामान्य keyboard में को कार्य के आधार पर कुछ 6 श्रेणीयों में बाटा गया है. जिनका वर्णन कुछ इस प्रकार है.

  1)  Function keys – Function keys keyboard में सबसे ऊपर होती है. उनको keyboard में F1 से F12 तक लिखा जाता है. Function keys का उपयोग किसी विशेष कार्य को करने के लिए किया जाता है, इनका हर प्रोग्राम में अलग कार्य होता है.

   2)  Typing keysसबसे अधिक इस्तेमाल इन keys का होता है. Typing keysमें दोनों तरह की keys (Alphabet और numbers) शामिल होती है, इनको सामूहिक रूप में alphanumeric keys कहा जाता है. Typing keys में सभी तरह के symbols तथा punctuation marks भी शामिल होते है.

           3)  Control keysइन keys को अकेले या अन्य keys के साथ कोई निश्चित कार्य करने में इस्तेमाल किया जाता है. एक सामान्य keyboard में अधिकतर Ctrl key, Alt key, windows key, Esc key का उपयोग Control keys के रूप में किया जाता है. इनके अलावा menu key, scroll keys, pause break key, Prtscr key ये भी keys control keys में शामिल होती है.

         4)  Navigation key – Navigation key में arrow keys, home, end, insert, page up, delete, page down ये सब key होती है. इनका use किसी document या webpage में इधर उधर जाने में होता है.

          5)  Indicator lights – keyboard में तीन तरह के Indicator lights (संकेत) होती है. Num lock, scroll lock, और caps lock. जब keyboard में पहले लाइट जली होती है तो इसका अर्थ है numeric keypad चालू है, यदि ये बंद हो तो इसका अर्थ है की numeric keypad बंद है. दूसरी लाइट हमें letters के uppercase और lowercase के बारे में संकेत करते है. 

      जब ये बंद होती है तो letters lowercase में होते है, और जब ये चालू होते है तो ये uppercase में होते है. तीसरी, जिसे scroll lock के नाम से जाना जाता है, यह हमें scrolling के बारे में संकेत करती है.

         6)  Numeric keypadइन्हें हम Calculator keys भी कह सकते है, क्योंकि numeric keypad में लगभग एक Calculator के समान ही key होती है. इसका इस्तेमाल numbers लिखने में किया जाता है.

 

Control keys –

      1)  Esc key – Esc key का इस्तेमाल वर्तमान में चल रहे किसी भी task को cancel करने के लिये किया जाता है. इसका पूरा नाम Escape key है.

      2)  Ctrl key – Ctrl key पूरा नाम control key है. इसका इस्तेमाल keyboard shortcuts में किया जाता है.

      3)  Alt key – Alt key का पूरा नाम Alter key है, इसका इस्तेमाल भी keyboard shortcuts में किया जाता है.

      4)  Window Logo key – इस key का use start menu को open करने के लिये किया जाता है.

      5)  Menu key – Menu key mouse के right click के समान ही कार्य करती है. यह किसी चुने हुए प्रोग्राम से संबंधित विकल्पों को open करती है.

      6)  Prtscr key – computer screen की image लेने के लिए इस key का उपयोग किया जाता है.

 

Navigation keys का उपयोग –

      1)  Arrow key – Arrow key चार होती है. Up, down, left और right arrow. इसका इस्तेमाल cursor और webpage को arrows की दिसा में सरकने के लिए किया जाता है.

      2)  Home key – Home key का इस्तेमाल cursor को किसी दस्तावेज के शुरुआत में लाने के लिए किया जाता है. इसकी सहायता से एक webpage और documents के एक दम शुरुआत में आ सकते है.

      3)  End key – End key का इस्तेमाल cursor को किसी दस्तावेज के आखिर में लाने के लिए किया जाता है. इसकी सहायता से एक webpage और documents के एक दम नीचे जा सकते है.

      4)  Insert key – Insert key का इस्तेमाल Insert Mode को on तथा off करने के लिए किया जाता है.

      5)  Delete key – Delete key का इस्तेमाल cursor के बाद के text, select किये हुए text तथा files एवं folder को delete करने के लिए किया जाता है.

      6)  Page up key – Page up key का इस्तेमाल cursor एवं किसी page को कुछ ऊपर सरकाने के लिए किया जाता है.

      7)  Page down key – cursor एवं किसी page को कुछ नीचे सरकने के लिए होता है.

Numeric keypad का उपयोग –

Numeric keypad, कीबोर्ड के दाये तरफ होता है, इसमें 0 से 9 तक संख्या होती है. साथ ही गणितिय चिन्ह – Addition, Subtraction, Division, Multiplication तथा Decimal चिन्ह भी होते है. Numeric keypad का इस्तेमाल संख्याए लिखने के लिए किया जाता है. ये संख्याए किबोर्ड में दूसरी जगह भी होती है, लेकिन Numeric keypad से इन्हें जल्दी से दिखा जा सकता है.

इसके अलावा Numeric keypad का use navigation keys की तरह भी कर सकते है. Numeric keypad को इस्तेमाल करने के लिए Num lock को on रहना चाहिए.

 

किबोर्ड का आविष्कार किसने किया –

आप सभी लोग keyboard का उपयोग करते होंगे, कोई अपने school में या कोई अपने घरोमें या फिर अपने काम पर लेकिन आपको ये नहीं पता होगा की उसका आविष्कार किसने किया. Keyboard का आविष्कार क्रिस्टोफर लेथम नामक इंसान ने किया हुवा है. ये आविष्कार तीसरी पीड़ी किया गया था.

 

कीबोर्ड में कितने बटन होते है –

 

बटन

मतलब

Esc

Escape key है

F1

Help

F2

Edit Mode

F3

Past name formula

F4

Repeat action

F5

Goto

F6

Next page

F7

Spell check

F8

Extend Selection

F9

Calculate All

F10

Activate menu

F11

New Chart

F12

Save As

`

Open Quote

~

Tilde

!

Exclamation mark

@

At, At the rate

#

Hash

$

Dollar

%

Percentage

^

Caret

&

And

*

Asterisk, Star

(

Round Bracket open

)

Round Bracket Close

_

Underscore

Dash, Hyphen, Minus

+

Plus

=

Equal

{

Open Curly Bracket

}

Close Curly Bracket

[

Open Box Bracket

]

Close Box Bracket

|

Vertical Bar

Back Slash

Single Quote

Double Quote

:

Colon

;

Semi-Colon

?

Question Mark

/

Forward Slash

Greater Than

.

Full Stop

Less Than

,

Comma

Tap

Move

Caps Lock

Capital word

Shift

Few Second Capital word

Ctrl

Command

Windows

start menu

Alt

Shortcuts key

Space

Space Key

PrtSc

Image key

Ctrl With A to Z Shortcut –

       1)  Ctrl + A = Select All

       2)  Ctrl + B = Bold Text

       3)  Ctrl + C = Copy

       4)  Ctrl + D = Font Diologbox Open

       5)  Ctrl + E = Center Alignment

       6)  Ctrl + F = Find

       7)  Ctrl + G = Goto

       8)  Ctrl + H = Replace

       9)  Ctrl + I = Italic

       10) Ctrl + J = Justify

       11) Ctrl + K = Hyperlink

       12) Ctrl + L = Left Alignment

       13) Ctrl + M = Margin

       14) Ctrl + N = New

       15) Ctrl + O = Open

       16) Ctrl + P = Print

       17) Ctrl + Q = Remove Paragraph Formating

       18) Ctrl + R = Right Alignment

       19) Ctrl + S = Save

       20) Ctrl + U = Underline

       21) Ctrl + V = Paste

       22) Ctrl + W = Close Word Document

       23) Ctrl + X = Cut

       24) Ctrl + Y = Redo or Repleat

       25)    Ctrl + Z = Undo a preview action

 

आज अपने क्या सिखा –

आज हमने कीबोर्ड के बारे में हर एक चीज सीखी है A to Z सारी बाते हमने जानी है. Keyboard के प्रकार कितने होते है उनका use कहा किया जाता है और उनके कितने keys होते है उनका मतलब क्या होता है. उनका इस्तेमाल करके हुम क्या कर सकते है, उनके shortcuts कितने प्रकार के होते है और उनका मतलब क्या होता है. कैसे shortcuts use करके हम अपना काम जल्दी कर सकते है.

 

Keyboard का आविष्कार किसने किया, और किस पीड़ी में किया ये तो सबसे बड़ी बात हमने आज जानी, फिर key के प्रकार भी हमने जाने आज, Numeric keypad क्या होता है उसका उपयोग कैसे करे और बहुत सारी जानकारी हमने आज जानी.

This Post Has 2 Comments

  1. Suyog kulkarni

    Apne jo jankari diye hai vo bahut badiya hai

    1. Omkar Pandit

      मुझे खुशी हुई की मेरा लिखा हुवा आर्टिकल आपको पसंद आया. धन्यवाद

Leave a Reply